इस वेबसाइट को सबसे अच्छी तरह देखा जा सकता हैMicrosoft इंटरनेट एक्सप्लोरर 9.0+,क्रोम,Firefox

English


  •  
  •  
SlideBar
CAPTCHA
Website Feedback
 
1941
 

टाटा स्मारक अस्पताल आरम्भ हुआ (टाटा हाउस)

 
1952
 

इंडियन कैंसर रिसर्च सेंटर की स्थापना

 
1957
 

राष्ट्र को समर्पित – स्वास्थ्य मंत्रालय, भारत सरकार

 
1959
 

पहला कोबाल्ट मशीन स्थापित

 
1962
 

परमाणु ऊर्जा विभाग को स्थानांतरित

 
1966
 

टाटा स्मारक अस्पताल और इंडियन कैंसर रिसर्च सेंटर का समेकन – टाटा स्मारक केंद्र (रजत जयंती वर्ष)

 
1975
 

अधिक प्रभावी कैंसर के इलाज हेतु उप विशिष्टताएं आरम्भ की गयी ।

 
1976
 

टाटा स्मारक अस्पताल के लिए नया अनेक्स (12 तल) की बिल्डिंग

 
 

कीमोथेरपी विभाग स्थापित

 
1978
 

देश का पहला लीनियर एक्सलरेटर – 10 M.V. स्थापित किया गया ।

 
1983
 

कैंसर में व्यावसायिक शिक्षा प्रभाग की स्थापना

 
1983
 

बार्शी, महाराष्ट्र में जल्द निदान और उपचार हेतु पहला ग्रामीण आउट-रीच केंद्र आरम्भ किया गया ।

 
1983
 

केंद्र का पहला सफल बॉन मेरो ट्रान्सप्लांट किया गया ।

 
1984
 

कॉमप्युटरायसेड एक्सिला टोमोग्राफी (CAT स्केन)

 
1985
 

भारत के प्रधानमंत्री द्वारा नए ऑपरेटिंग कक्ष और इंटेंसिव केयर सुविधाओं का उदघाटन

 
1986
 

लेबोरेट्री मेडिसिन प्रभाग आरम्भ किया गया ।

 
 

भारत में, 6 केन्द्रों में, कैंसर में पहला प्रौद्योगिकी अंतरण कार्यक्रम आयोजित किया गया ।

 
1987
 

जल्द निदान एवं इलाज हेतु पुणे में, दूसरा ग्रामीण आउट-रीच केंद्र आरम्भ किया गया ।

 
1990
 

गरीब तथा दूसरे शहर से आने वाले कैंसर के मरीजों के लिए “डॉ.अर्नेस्ट बोर्जेस होम’ आरम्भ किया गया ।

 
1990
 

हैम्बर्ग में 16वा यूआयसीसी अंतर्राष्ट्रीय कैंसर कांग्रेस (1994) की मेजबानी करने हेतु भारत की बोली का नेतृत्व टाटा स्मारक केंद्र ने किया और कनाडा तथा थायलैंड के विरुद्ध जीते ।

 
1991
 

गोल्डन जुबिली

 
 

सभी स्तरों पर कैंसर निवारण, शिक्षण और प्रशिक्षण विभाग आरम्भ किए जायेंगे ।
फरवरी में सेमीनार, संगोष्टी, कार्यशाला आदि का आयोजन करके नए आउट-पेशंट डिपार्टमेंट काम्प्लेक्स और अकादमिक तल – ऑडीटोरिया आरम्भ किए जायेंगे । टीएमसी का लोगो श्री राउत द्वारा डिजाइन किया गया और तैयार किया गया ।

 
1992-1995
 

नवी मुंबई में नया केंद्र: “कैंसर के इलाज, अनुसंधान और शिक्षण का प्रगत केंद्र” (एक्ट्रेक) आरम्भ किया जाएगा – 8 वर्षीय योजना, भारत सरकार ।

 
1999
 

डिजिटल फ्लुरोस्कोपी, डिजिटल ममोग्राफी, मैग्नेटिक रेसोनेंस इमेजिंग, अल्ट्रा-सोनोग्राफी सहित कन्वेंशनल रेडियोग्राफी ।

 
1997-2005
 

कॉमप्युटेड टोमोग्राफी

 
1999
 

मैग्नेटिक रेसोनेंस इमेजिंग, अल्ट्रा-सोनोग्राफी (2004 में उन्नयन किया गया)

 
1999
 

पिक्चर आर्काइवल एंड कम्युनिकेशन सिस्टम (PACS)को लगाया गया था ।

 
2004
 

बायो इमेजिंग यूनिट की स्थापना की गयी । हाय डिपेंडेंसी यूनिट तैयार किया गया ।

 
2000
 

अपशिष्ट प्रबंधन के लिए हायड्रोक्लेव आरम्भ किया गया ।

 
1980
 

टीसीएस द्वारा अस्पताल सूचना प्रणाली के लिए संभाव्यता अध्ययन ।

 
1996
1997
 

हॉस्पिटल साइंटिफिक रिव्यू समिति का गठन (HSRC)

 
1997
 

क्लिनिकल रिसर्च सेकरटेरियेट ((CRS)और पऊवि –क्लिनिकल ट्रायल्स सेंटर (DAE - CTC )

 
1999
 

मरीज प्रशासन मोड्यूल का कार्यान्वयन

 
1999
 

मटीरियल्स मैनेजमेंटमॉडयूल

 
2000
 

अंत:रोगी बिलिंग मॉडयूल

 
2001
 

रेड़ियोलोजी सूचना प्रणाली का कार्यान्वयन

 
2002
 

प्रयोगशाला सूचना प्रणाली का कार्यान्वयन

 
2003
 

पहला ईबीएम सम्मेलन का आयोजन किया गया (28 फरवरी – 2 मार्च 2003) और अब ईबीएम एकब्रांड के रूप में चल रही है ।

 
2003
 

ऑपरेशन थीयटर प्रणाली का कार्यान्वयन

 
2003
 

क्लिनिकल पीएसीएस का कार्यान्वयन

 
2003
 

6 अक्टूबर 2003 को टीएमसी के साथ टेक्सास विश्वविद्यालय, एम डी एंडरसन कैंसर सेंटर – का बहन संस्था करार

 
2003
 

टेलीमेडिसिनका कार्यान्वयन

 
2004
 

पीएसीटीएस – प्रोग्राम फॉर एक्शन इन कैंसर थेरपी – टीएमसी को समन्वयक के रूप में रखकर आयएईए द्वारा प्रारम्भ किया गया । पउवि के देशीय प्रौद्योगिकी के द्वारा अवसंरचनात्मक विकास को प्रोत्साहित करना ।

 
2005
 

30 मार्च 2005 को डॉ अनिल काकोडकर, अध्यक्ष परमाणु ऊर्जा आयोग द्वारा एक्ट्रेक का नैदानिक अनुसंधान केंद्र का उदघाटन किया गया और आरम्भ किया गया ।

 
 

पनासिया टेक्नोलॉजी लिमिटेड के सहयोग से भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र द्वारा देशीय रूप से विकसित “भाभाट्रोन – 1 एक टेली कोबाल्ट यूनिट आरम्भ करना ।

 
 

नैदानिक सूचना प्रणाली का कार्यान्वयन

 
 

“मेरो डोनर रजिसट्री’ – असंबंधित स्वैछिक मेरो डोनर की रजिस्ट्री की स्थापना

 
 

इलेक्ट्रोनिक मेडिकल रेकोर्ड्स का कार्यान्वयन

 
 

पूर्ण रूप से क्रियाशील पीएसीएस

 
2009
 

(28 नवम्बर 2009) को एचबीबी में इमेज गाइडेड रेडियोथेरपी ट्रीटमेंट (आयजीआरटी) की वृद्धि

 
2009
 

9 दिसम्बर 2010, को डॉ.एस.बनर्जी अध्यक्ष पऊअ एवं सचिव पऊवि द्वारा अणुशक्ति नगर के टीएमसी पी.जी. छात्रावास एवं अथिति गृह का उदघाटन ।

 
2010
 

15 नवम्बर 2010 को डॉ.एस.बनर्जी अध्यक्ष पऊअ एवं सचिव पऊवि द्वारा टीएमसी मोबाइल स्क्रीनिंग कार्यक्रम का उदघाटन ।

 
2010
 

संस्थान के प्रयासों और प्रदर्शन को विधिमान्य करने के लिए इंटरनेशनल पीर रिव्यू 2010 गठित की गयी – पैनल में विविध देशों के 15 विशेषग्य थे ।

 
2011
 

2 मार्च, 2011 को, भारत के भूतपूर्व राष्ट्रपति डॉ.अब्दुल कलाम द्वारा होमी भाभा ब्लाक का उदघाटन । श्री.गुलाम नबी आजाद, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री विशिष्ट अतिथि थे । फोटोज्स यहाँ देखें ।

 
2014
 

10 जनवरी 2014 को भारत के माननीय प्रधानमंत्री श्री मनमोहन सिंह द्वारा हैड्रन थेरपी सुविधा तथा महिला एवं बच्चों के अस्पताल का उदघाटन ।

 

हमसे संपर्क करें

टाटा स्मारक अस्पताल
डॉ ई बोर्जेस रोड, परेल, मुंबई - 400 012 भारत 
फ़ोन: +91-22- 24177000, 24146750 - 55
फैक्स: +91-22-24146937
ईमेल : msoffice@tmc.gov.in (रोगी देखभाल और प्रश्नों के लिए) / hrd@tmc.gov.in(प्रशासनिक के लिए - HRD मायने रखता है)

905440 (204)